Category : देश

Blogआज का सत्यइतिहासदेशधर्मप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़विदेश

Merry Christmas True History Of God Jesus ‘यीशू’ के जन्मदिन की शुभकामनाए

narendra vala
25 dec.merry christmas
    नमस्ते,  The date of birth of Jesus is not stated in the gospels or in any historical sources, but most biblical scholars generally accept a date of birth between 6 BC and 4 BC, the year in which King Herod died.The historical evidence is too incomplete to allow a definitive dating, but the year is estimated through......
Blogsanatan satyaआज का सत्यइतिहासदेशधर्मधर्म-साहित्यप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़साहित्य

सनातन धर्म और हम

narendra vala
सनातन धर्म और हम
नमस्कार,                                      ना आदि ना अंत सनातन ही अनंत           सनातन धर्म हिंदू धर्म का एकही आदि-अनादि संप्रदाय है जिसका उपयोग आम हिंदू धर्म के साथ-साथ संस्कृत और अन्य भारतीय भाषाओं में भी......
Blogइतिहासकहानियाँक्रांतिकारीदेशधर्मधर्म-साहित्यप्रदेशप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिविदेशशख्सियत

23 जून 1757 मे ‘प्लासी’ युद्ध मे अंग्रेज़ो के सामने मुगल नवाबो की दुर्बलता के कारण भारत मे गुलामी की नीव का ‘सत्यनामा’

narendra vala
1757 plasi yuddh
 नमस्कार , 1857 की क्रान्ति से पहले 23 जून 1757 मे हुआ भारत के पहले युद्ध का ‘सत्यनामा’       भारत मे प्लासी का पहला युद्ध 23 जून 1757 को मुर्शिदाबाद के दक्षिण में 22 मील दूर नदिया जिले में भागीरथी नदी के किनारे ‘प्लासी’ नामक स्थान में हुआ था। इस युद्ध में......
Blogइतिहासक्रांतिकारीदेशराजनीतिलाइफस्टाइलशख्सियत

‘नरेंद्र दामोदरदास मोदी’ बचपन मे चाई बेचनेसे प्रधानमंत्री तक का ‘मोदीनामा’

narendra vala
नमस्कार ,      नरेन्द्र भाई दामोदरदास मोदी, जन्म:- सितम्बर 17, 1950 वड्नगर [गुजरात]      वडनगर के एक गुजराती परिवार में जन्म हुआ , नरेंद्र ने अपने बचपन में चाय बेचने में अपने पिता की मदद की, और बाद में अपना खुद का स्टाल चलाया। आठ वर्ष की आयु में वे......
Blogइतिहासदेशधर्मब्रेकिंग न्यूज़साहित्य

भगवान श्रीकृष्ण की १६ हजार पत्निया और उनके संतानों के नाम पहली बार ‘सत्य की शोध’ का ‘सत्यनामा’

narendra vala
 नमस्कार ,          श्रीकृष्ण और उनकी पत्नीया और संतानों के नाम        भगवान श्री कृष्ण लीलापुरुषोत्तम की 16108 पत्नियां थी, प्रत्येक पत्नीसे उन्होंने 10-10 पुत्र प्राप्त किए थे| वे समस्त पुत्र शक्ति, सौंदर्य, बुद्धि, यश, संपत्ति और त्याग के ऐश्वर्यो में अपने पिता के समान......
Blogsanatan satyaइतिहासदेशधर्म-साहित्यप्रदेशप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़लाइफस्टाइलसाहित्य

ताम्रपाषाण युग का अलौकिक जीवन “सत्य की शोध”मे पहलीबार

narendra vala
  नमस्कार ,                    ताम्रपाषाण युग का जीवन           ताम्र धातु का उपयोग नवपाषाण काल के अंत में शुरू हुआ था| इस्तेमाल की जाने वाली पहली धातु तांबा थी| तांबा और पत्थर के औजारों के उपयोग पर कई संस्कृतियों......
आज का सत्यइतिहासदेशधर्मधर्मधर्म-साहित्यप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़साहित्य

माँ नवदुर्गा , पवित्र नवरात्रि का महत्व माँ दुर्गा का नौ अवतार

narendra vala
माँ नौ दुर्गा नवरात्रि
नमस्कार , जय मतादी         नवदुर्गा सनातन धर्म में भगवती माता दुर्गा जिन्हे आदिशक्ति जगत जननी जगदम्बा भी कहा जाता है, भगवती के नौ मुख्य रूप है जिनकी विशेष पूजा व साधना नवरात्रि के दौरान और वैसे भी विशेष रूप से करी जाती है। इन नवों/नौ दुर्गा देवियों को पापों की विनाशिनी कहा जाता है,......
Blogइतिहासदेशधर्मप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़शख्सियतसाहित्य

Astro Hanumant-आचार्यश्री भावेश भाई गुरुजी कथा,पूजा,ज्योतिषशास्त्री ‘सत्यनामा’

narendra vala
Astro_Hanumant Acharyashri bhavsh bhai guruji Acharyas and gurus like Acharya Bhavesh Bhai Guruji play a vital role in guiding individuals on their spiritual journeys. They may offer teachings on meditation, yoga, scripture, and the pursuit of self-realization. Bhagavat Katha: Bhagavat Katha is a traditional Hindu religious discourse or storytelling event......
Blogइतिहासदेशप्रदेशब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिविदेशशख्सियतसाहित्य

मुंबई को सिर्फ 10 पाउंड मे भाड़े से दे दिया था | जानिए किसने बेचा था “मुंबई “?

narendra vala
नमस्कार ,                                           मुंबई का “सत्यनामा’ 23 जून 1661 मुंबई के लिए अति महत्व का दिन इस लिए है की ब्रिटेन के राजा चार्ल्स [दूसरे] और पोर्तुगल के राजा आल्फ़ोंसस......
Blogदेशप्रेरणाबिज़नेसमनोरंजनलाइफस्टाइल

The Ayurveda Co. TAC Vitamin C Foaming & 100% kumkumadi Face Wash

narendra vala
kumkumadi face wash
http://satyakishodh.com/wp-content/uploads/2023/10/Amazonin-TAC-The-Ayurveda-Co-Face-Wash-4.mp4 = ayurvedic face creams are often used by females for their numerous potential benefits for the skin. Here are some of the benefits associated with using Ayurvedic face creams: Natural Ingredients: Ayurvedic face creams are typically made from natural ingredients like herbs, plants, and minerals. These ingredients are believed......
Blogदेशप्रदेशप्रेरणाबिज़नेसब्रेकिंग न्यूज़लाइफस्टाइल

Diva Fashion Latest Rose Gold Austrian Crystal Bracelet For Women And Girls

narendra vala
crystal breslet
https://amzn.tohttps://www.amazon.in/Shining-Diva-Fashion-Austrian-11942b/dp/B091MK45DB?crid=2RJQ4TUB0CUIH&keywords=secret+items&qid=1695915072&sprefix=secrate+items,aps,182&sr=8-29&linkCode=sl1&tag=thebrand1213-21&linkId=ac98b5403bafa8ff44377423f9122fcb&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl Austrian Crystal Bracelet: A Timeless Elegance In our quest to present the epitome of style and sophistication, we introduce the Austrian Crystal Bracelet, a true masterpiece that effortlessly combines timeless elegance with contemporary fashion. Crafted with precision and adorned with the brilliance of Austrian crystals, this bracelet is a......
Blogआज का सत्यकहानियाँदेशप्रदेशप्रेरणाबिज़नेसब्रेकिंग न्यूज़लाइफस्टाइलविदेशशख्सियतसाहित्य

The Monk Who Sold His Ferrari, best in best motivation person book

narendra vala
motivational book
I am a beacon of love and compassion: Just like a Buddhist monk, I radiate love, compassion, and peace towards myself and others. This inner light guides my actions and interactions, creating a positive and harmonious life. Time is my ally, not my enemy: I embrace the slow life approach,......
Blogआज़ादी के दीवानेइतिहासक्रांतिकारीदेशशख्सियत

विनायक दामोदर सावरकर [ 1883-1966 ] आज़ादी के दीवाने “वीर सावरकर”

narendra vala
वीर सावरकर आज़ादी के दीवाने
नमस्कार,  विनायक दामोदर सावरकर (1883-1966)     वीर सावरकर के नाम से प्रसिद्ध विनायक दामोदर सावरकर का जन्म 1883 में नासिक के निकट भगुर गांव में एक मध्यमवर्गीय चितपावन ब्राह्मण परिवार में हुआ था। दस साल की उम्र में विनायक ने मराठी की चौथी कक्षा उत्तीर्ण की। 1895 में उन्होंने......
Blogइतिहासदेशधर्मप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़साहित्य

ब्रह्माजी के 20 सत्य नाम ऋग्वेद से भी पहेले का “सत्यनामा” |

narendra vala
नमस्कार, ब्रहमाजी के सत्य 20 नाम जिसका प्रमाण ऋग्वेद की रचना से भी पहेले अमरकोश मे मिलता है |...
Blogआज़ादी के दीवानेइतिहासक्रांतिकारीदेशप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिशख्सियत

महात्मा गांधी के विरुद्ध भारत का पहेला मुकदमा-जेल 1922 मुख्य न्यायाधीश शेलत की कलम से ….

narendra vala
गांधी का पहेला अपराध और जेल
नमस्कार, महात्मा गांधी का मुकदमा  (1922)       महात्मा गांधी और यंग इंडिया के प्रकाशक शंकरलाल बैंकर पर एक साथ मुकदमा चलाया गया और एक साथ सजा सुनाई गई। 1922 में, उन्हें ‘यंग इंडिया’ में चार ब्रिटिश विरोधी भड़काऊ लेख लिखने के लिए भारतीय दंड संहिता की धारा 124ए......
Blogइतिहासदेशप्रदेशप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिविदेशशख्सियतसाहित्य

भारत मे गुप्त सम्राटों का शासनकाल “एक गुप्त युग” का ‘सत्यनामा’

narendra vala
गुप्त साम्राज्य
नमस्कार, गुप्त साम्राज्य के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य |  गुप्त वंश के शासकों ने परमेश्वर, सम्राट, परमभट्टरका, महाराजाधिराज जैसी भव्य उपाधियाँ धारण कीं। गुप्त काल में अश्वमेध एक सामान्य प्रथा थी। गुप्त प्रशासन प्रकृति में अर्ध सामंती विकेन्द्रीकृत था। अधिकांश गुप्त शासक वैष्णववादी थे गुप्त काल को विभिन्न क्षेत्रों में......
Blogआज का सत्यआज़ादी के दीवानेइतिहासक्रांतिकारीदेशधर्मप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़शख्सियत

में परमवीर चक्र पाना चाहता हु| करगिल शहीद केप्टन मनोज कुमार पांडे की शहीदी का ‘सत्यनामा’ 3 जुलाई 1999

narendra vala
करगिल युद्ध 1999 शहीद केप्टन मनोज पाण्डे
नमस्कार,  में परमवीर चक्र पाना चाहता हु | लेफ़्टेनेंट मनोज कुमार पाण्डे       कैप्टन मनोज कुमार पांडेय (25 जून 1975, सीतापुर, उत्तर प्रदेश — 3 जुलाई 1999, कश्मीर), भारतीय सेना के अधिकारी थे जिन्हें सन १९९९ के करगिल युद्ध में असाधारण वीरता के लिए मरणोपरांत भारत के सर्वोच्च वीरता पदक परमवीर चक्र से सम्मानित......
Blogआज का सत्यइतिहासदेशप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़मनोरंजनलाइफस्टाइलशख्सियतसाहित्य

तू कही आसपास है | पद्मश्री महम्मद रफ़ी स्वरांजली 31 जुलाई का “रफ़ीनामा”

narendra vala
पद्मश्री महम्मद रफी
नमस्कार , ‘रफ़ी’ साहब आज भी उनकी आवाज़ के जरिये हमारे बीच ही है |       ‘महम्मद रफ़ी’  एक फ़नकार ही नहीं है , एक नाम ही नहीं है , एक ऐसा नाम एक ऐसे फनकार जिनकी बरोबरी आज भी कोई नहीं कर शकता है | ‘रफ़ी’ साहब उस......
Blogआज का सत्यआज़ादी के दीवानेइतिहासक्रांतिकारीदेशप्रेरणाब्रेकिंग न्यूज़शख्सियतसाहित्य

“या तो में तिरंगा फहराकर आऊँगा , या तो में तिरंगे मे लिपटकर आऊँगा” केप्टन विक्रम बत्रा 26 जुलाई करगिल विजय दिवस,

narendra vala
नमस्कार , 26 जुलाई कारगिल विजय दिवस,       1999 के कारगिल युद्ध मे भारत के 527 योद्धाओको हमने खोया है , जाबाज़ सिपाही ही होते है वो हर लड़ाई मे देखते है , यहा हमारे 527 शहीद योद्धाओकी वीरगति का इतिहास एक ही शृंखला मे कह नहीं पाएंगे......

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy
error: Content is protected !!